कलेक्टर ने जारी किया स्वतंत्रता दिवस पर्व को हर्षोल्लास एवं गरिमामय वातावरण में मनाने के संबंध में विस्तृत दिशा निर्देश

Published by [email protected] on

Spread the love

मुंगेली // कलेक्टर श्री राहुल देव ने जिले में स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त को हर्षोल्लास और गरिमामय वातावरण में बनाने के लिए आज विस्तृत दिशा निर्देश जारी किए हैं। उन्होंने सभी अनुभाग के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, सभी जनपद पंचायत के मुख्य कार्य पालन अधिकारी और नगरीय निकायों के सभी मुख्य नगर पालिका अधिकारी तथा समस्त विभागों के जिला प्रमुखों को जारी दिशा-निर्देश में कहा है कि वर्ष 2021 की भांति इस वर्ष भी स्वतंत्रता दिवस, 15 अगस्त 2022 को गरिमामय वार्तावरण में आयोजित किया जाए, लेकिन कोविड-19 के प्रसार को दृष्टिगत रखते हुए स्कूली बच्चों का सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया जाएगा।
 कलेक्टर श्री देव ने जारी दिशा-निर्देश में कहा कि जिला स्तर पर मुख्य अतिथि के द्वारा ध्वजारोहण, परेड की सलामी और माननीय मुख्यमंत्री के जनता के नाम संदेश का वाचन किया जायेगा। जारी निर्देश में उन्होंने कहा है कि केवल जिला मुख्यालय में परेड का आयोजन किया जाएगा। परेड में पुलिस, एनसीसी, नगर सेना एवं जेल प्रहरी की टुकड़ियां भाग लेंगे। जनपद पंचायत एवं तहसील स्तर पर आयोजित समारोह में जनपद पंचायत अध्यक्ष द्वारा ध्वजारोहण किया जाएगा एवं राष्ट्रगान होगा। नगरीय निकायों में निकाय अध्यक्षों द्वारा, पंचायत मुख्यालयों में सरपंच द्वारा एवं बड़े गांवो में गांवों के मुखिया द्वारा ध्वजारोहण किया जाएगा और सामूहिक रूप से राष्ट्रीय गान गाया जाएगा। उन्होंने कहा कि जिले के विद्यालयों तथा महाविद्यालयों में ध्वजारोहण कार्यक्रम का आयोजन संबंधित विभागों द्वारा सुनिश्चित की जाएगी। जिले के सभी विभाग कार्यालय प्रमुख द्वारा उनके कार्यालय में ध्वजारोहण का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा, तथा ध्वजारोहण के पश्चात् सामूहिक रूप से राष्ट्रीय गान (जन-गण-मन) गाया जाए। उन्होंने जिला मुख्यालयों में स्थित शासकीय कार्यालयों में ध्वजारोहण कार्यक्रम प्रातः 09 बजे के पूर्व सम्पन्न करने के निर्देश दिए हैं, ताकि उन कार्यालयों के अधिकारी एवं कर्मचारीगण मुख्य समारोह में शामिल हो सकें। उन्होंने सभी शासकीय, सार्वजनिक भवनों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने साथ ही स्वतंत्रता दिवस, 15 अगस्त की रात्रि में जिले के सभी शासकीय, सार्वजनिक भवनों, राष्ट्रीय महत्व के स्मारकों पर रोशनी करने के निर्देश दिये है। उन्होंने कार्यक्रम में नक्सली हिंसा में शहीद के परिवारजनों को सम्मानपूर्वक जिला स्तरीय समारोह में आमंत्रित करने और जिले के शासकीय अधिकारियों, कर्मचारियों को उनके निवास पर राष्ट्रीय ध्वज लगाने की बात कही।


0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published.