ब्रेकिंग न्यूज़ बिल्हा – बिलासपुर पुलिस द्वारा अवैध उगाही से परेशान ग्रामीणों ने अब उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है पचपेड़ी, चकरभाठा, बिल्हा, सकरी, हिर्री, फिर बिल्हा पुलिस के द्वारा फिर वसूला गया मोटी रकम

Published by manharan banjare on

Spread the love

बिलासपुर जिले में लगातार की घूसखोरी का मामला सामने आते जा रहा है पिछले कुछ महीनों की बात करें तो पचपेड़ी थाने से चार आरक्षक चकरभाटा थाने से प्रधान आरक्षक बिल्हा से आरक्षक जीसके बाद सकरी के ए.एस.आई. के खिलाफ विभागीय कार्यवाही जारी है लेकिन ठीक उसी प्रकार से ग्रामीणों को जबरदस्ती झूठी केस में फसाना अवैध उगाही करना ऐसे ही मामला कुछ दिन पहले हिर्री थाने में भी किया गया है, पीड़ित लोगों ने बताया कि जबरन एफ.आई. आर. दर्ज करना और ₹36,400 नगद और ₹30,000 पेंड्री मोड़ के कबाड़ी दुकान के फोन पर में करवा कर टोटल ₹66400 वसूला गया है। साथ ही मारपीट और जातिगत गाली गलौज भी हिर्री थाने के स्टाफ द्वारा किया गया है, मामला शांत हुआ नही अब बिल्हा थाने के चार पुलिसकर्मियों का नाम अवैध उगाही करने उजागर हो रहा है उमरिया निवासी श्यामसुंदर वर्मा का शिकायत है कि वह किसानी का सामान लेकर घर जाते वक्त दो पुलिसकर्मियों के शिकार हो गया, और जबरन थाने में लाकर बैठा दिया गया एवं लंबे रुपयों का मांग किया जा रहा था ग्रामीणों ने अपना मान और सम्मान को बचाने के लिए और पुलिसकर्मियों के डर और गाली गलौज से बचने के लिए ₹20,000 नगद बिल्हा थाने में पदस्थ एस.आई. रामचंद्र साहू के कहने पर आरक्षक को दे दिया जिसकी शिकायत श्याम सुंदर वर्मा द्वारा बिलासपुर पुलिस अधीक्षक को किया गया है जिसका जांच अभी अधर में लटका हुआ है अभी तक किसी भी प्रकार की कारवाही पुलिस विभाग द्वारा नहीं किया गया है। लगातार इस प्रकार से पुलिस विभाग की घूसखोरी से आम जनता परेशान हैं जिसका उजागर अब आम जनता भी करना शुरू कर दिया है अब इस प्रकार के घूसखोरी से आम जनता भी बचने की कोशिश में लग चुके हैं।


0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published.