भीम आर्मी प्रदेश अध्यक्ष राजकुमार जांगड़े ने संविधान दिवस पर छात्र छत्राओं को बांटे संविधान

Published by [email protected] on

Spread the love

भीम आर्मी प्रदेश अध्यक्ष राजकुमार जांगड़े ने संविधान दिवस पर छात्र छत्राओं को बांटे संविधान

26 नवम्बर संविधान दिवस पर भीम आर्मी के प्रदेश अध्यक्ष राजकुमार जांगड़े पहुंचे हाई स्कूल उच्चभिठी व छिन्द जहां ओ हाई स्कूल की पढ़ाई किया था। स्कूल पहुंचते ही स्कूल स्टाफ ने उनको बधाई दिया। इस स्कूल के छात्र आज इतने बड़े छत्तीसगढ़ प्रदेश का नेतृत्व कर रहा है।स्कूल स्टाफ से रूबरू होने के बाद प्रदेश अध्यक्ष स्कूल के स्टेज पर छात्र छात्राओं के बीच पहंचे वहां उनका पढ़ाई का हाल चाल जाना उसके स्कूल स्टाफ पाण्डे मैडम ने प्रदेश अध्यक्ष राजकुमार जांगड़े को संविधान की प्रस्तावना पढ़ने व संविधान दिवस पर सवैधानिक बात रखने के लिए आमंत्रित किया।प्रदेश अध्यक्ष ने भारत के प्रस्तावना को पढ़कर बताया कि भारत के संविधान को लिखने वाले डॉ भीमराव आंबेडकर जी को इस देश के जातिवादियों ने स्कूल बैठकर पढ़ने नही दिया था और उसी बाबा साहब डॉ भीमराव आंबेडकर जी ने लंदन इकोनॉमिक्स की 8 वर्ष की पढ़ाई 2 वर्ष 3 माह में पूरा कर 32 डिग्री हासिल किया था व उन्हें 9 भासा का ज्ञान था।और डॉ भीमराव आंबेडकर जी ने भारत के संविधान 2 वर्ष 11 माह 18 दिन में भारत के संविधान को लिखकर भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद को 26 नवम्बर सन 1949 को सौपा था। जो 26 जनवरी 1950 को लागू हुआ था भारत के संविधान लागू होने पर भारत के सभी नागरिकों को समता समानता और भाई चारे से जोड़ा प्रदेश अध्यक्ष ने अपने उद्बोधन में 6 मौलिक अधिकार को भी बताया (1) समता का अधिकार,(2) स्वतंत्रता का अधिकार,(3) शोषण के विरुद्ध अधिकार,(4) धार्मिक स्वतंत्रता का अधिकार,(5) संस्कृति और शिक्षा संबंधी अधिकार,(6) संवैधानिक उपचारों का अधिकार,
के साथ आर्टिकल 19 हर तरह के जुल्म के खिलाफ लड़ाई लड़ने व आवाज उठाने का अधिकार देता है।और अब संविधान की ताकत वह ताकत है।जो हजारों तोप तलवार से भी बढ़कर है।तो किसी को डरने का कोई जरूरत नही है।अगर आज के छात्र छात्रओं को कोई परेशान करेगा तो भीम कर्मी को आवाज लगाना उनको संविधान का पावर बताया जाएगा बताते हुए। प्रदेश अध्यक्ष ने दोनों हई स्कूल के छात्र छात्राओं को संविधान की बुक बांटकर सभी अध्ययनरत छात्र छत्राओं को शिक्षा के महत्व को बताते हुए कहा कि आप सभी अच्छे से पढ़ाई को करना है।और अपने गांव व माता पिता के साथ अपने स्कूल का नाम रौशन करना है। साथ प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि आप लोगों को अच्छे से अच्छा जीवन जीना है।तो सारे बुराइयों का त्याग कर अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए दिन रात पढ़ाई करना है और अपने लक्ष्य को प्राप्त करना है।साथ ही शिक्षा का महत्व बताते हुए कहा कि शिक्षा शेरनी का वह दूध है।जो जितना पिएगा उतना दहाड़ेगा साथ ही सभी का उज्वल भविष्य का कामना करते हुए स्कूल स्टाफ व सभी छात्र छत्राओं को संविधान व संविधान से मिले अधिकार दिवस का बधाई देते हुए।दोनों स्कूल के सभी छात्र छात्राओं व समस्त स्कूल स्टाफ के साथ मिलकर ऐतिहासिक संविधान दिवस को मनाया इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष के साथ कोषाध्यक्ष संतोष बौद्ध, प्रदेश अध्यक्ष के सहयोगी हेमंत खूंटे अजय खूंटे,मुकेश लहरे साथ रहे

m

0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published.